बक्सर खबर : राजपुर थाना के संगराव गांव में बुधवार की सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। सुबह पांच बजे घर से टहलने निकले हरे कृष्ण पांडेय (65) धारा प्रवाहित तार की चपेट में आ गए। मौके पर ही उनकी मौत हो गई। उनको बचाने पहुंचे यादव परिवार के तीन लोग भी हताहत हुए हैं। ग्रामीण सूत्रों ने बताया कि संगरांव निवासी हरेकृष्ण पांडेय प्रतिदिन सुबह चार बजे पत्नी के साथ टहलने निकलते थे। मुख्य रास्ते में शौच करने वाली महिलाएं थी। इस लिए पतली गली से होकर जा रहे थे। जहां पहले से टूटा तार गिरा था। उसपर नजर नहीं पड़ी। ऐसे में तार उनके पैर से जा लगा।

करंट लगने से वे गिर पड़े। नीचे गिरते ही उनका पूरा शरीर तार के संपर्क में आ गया। पास में मवेशियों को चारा डाल रहे यादव परिवार के एक व्यक्ति ने यह घटना देखी। वह दौड़कर फरुही (गोबर हटाने का देहाती उपस्कर) लेकर दौड़ा। उसी के सहारे तार हटाने लगा। लेकिन उसे भी करंट लग गया। इसी क्रम में उनके अन्य दो भाई रमेशर यादव व कमेशर यादव भी पहुंचे। लेकिन वे बचा नहीं सके। इन तीनों का करंट का झटका लगा। संयोग रहा कि उनकी पत्नी को किसी ने शव को हाथ नहीं लगाने दिया। अन्यथा वह भी दुर्घटना का शिकार हो सकती थीं। ग्रामीणों ने बताया पांडेय जी के तीन पुत्र हैं। पूरा परिवार कृषि पर ही आधारित है।

विज्ञापन